Kharaundhi news garhwa । ईद उल अजहा बकरीद आपसी भाईचारे शांतिपूर्ण तरीके से सम्पन्न

खरौंधी से योगेन्द्र प्रजापति की रिपोर्ट

खरौंधी । गढ़वा । खरौंधी ईद उल अजहा (बकरीद) आपसी भाईचारे के साथ सौहार्दपूर्ण वातावरण में शांतिपूर्ण तरीके से सम्पन्न हो गया। सरकार के गाइडलाइन का पालन करते हुए प्रखंड के सभी मस्जिद में कुछ लोगों ने नमाज अदा किया। जबकि शेष अन्य लोगों ने अपने अपने घरों में ईद उल अजहा की नमाज अदा किया। प्रखंड के सभी ईदगाह में पुलिस प्रशासन मुस्तैद रही। इमाम हाजी अख्तर रजा,मोहम्मद फिरोज आलम ने मुल्क में अमन चैन एवं तरक्की के साथ कोरोना महामारी से देश वासियों को निजात दिलाने की दुआ मांगी।नमाज अदा करने के बाद लोगों ने एक दूसरे को फोन पर ही मुबारकबाद दिया।उन्होंने कहा पैगंबर हजरत इब्राहिम अली सलाम को अल्लाह ताला ने ख्वाब में अपने सबसे प्यारी चीज को कुर्बान करने का हुक्म दिया था। जिसके बाद हजरत इब्राहिम ने अपने पुत्र हजरत इस्माइल अली सलाम की कुर्बानी करने की कोशिश की मगर उस जगह पर दुम्बा को कुर्बान करा दिया। अल्लाह ताला को इतना पसंद आया कि कयामत तक कुर्बानी वाजिब करार कर दिया।उन्होंने बताया कि बकरीद पर्व में एक ओर जहाँ मुस्लिम समुदाय के लोग हज करने लिए सबसे पवित्र स्थल मक्का मदीना जाते है , वहीं इस दिन लोग घरों में बकरा कुर्बानी करते है।कुर्बानी का एक भाग गरीब मजबूर आदि को दिया जाता है ,वहीं दूसरा भाग अपने परिजनों में बांटा जाता है। तीसरा और अंतिम हिस्सा खुद रख दिया जाता है।नमाज अदा करने वालो में सदर समसुद्दीन अंसारी,हिफाजत अली,मौलाना लियाकत अंसारी,कलामुद्दीन अंसारी,जाकिर हुसैन, रवि हुसैन, मोहब्बत हुसैन,राजा हुसैन,समीर हुसैन,नजरे आलम,जाहिर अली,मोजहिम मियां सहित अन्य लोगो के नाम शामिल है।