Kandi news garhwa। पति की लंबी आयु की कामना हेतु महिलाओं ने किया वट सावित्री व्रत

कांडी से अरुण कुमार चौबे

कांडी। गढ़वा। हरिहरपुर ओपी क्षेत्र के सभी गांवों में सुहागिन महिलाओं ने अपने अखंड सौभाग्य का व्रत वट – सावित्री को विधि-विधान से किया। इस वर्ष सभी क्षेत्रों में दो दिनों तक वट – सावित्री का व्रत किया गया कुछ क्षेत्रों में हृषिकेश पञ्चाङ्ग के अनुसार बुधवार को तथा कुछ क्षेत्रों में लोकाचार्य के अनुसार गुरुवार को व्रत किया। इस दिन ऐसी मान्यता है कि सभी सुहागिन महिलाएं अपने पति की लंबी आयु के लिए बरगद के वृक्ष की पूजा करतीं हैं। हालांकि इस वर्ष वैश्विक महामारी कोरोना के कारण शारीरिक दूरी का ख्याल रखते हुए घर में ही पूजन-विधान का रास्‍ता अपनाया। ज्येष्ठ कृष्ण अमावस्या को मनाए जाने वाले इस व्रत में बरगद के वृक्ष का पूजन और परिक्रमा का विधान है। शास्त्रों में इस व्रत के लिए कहा गया है कि वट वृक्ष की जड़ों में ब्रह्मा, तने में भगवान श्रीविष्णु और डालियों में भगवान शंकर का निवास होता है। यह व्रत संतान प्राप्ति के लिए परम हितकारी है। इस दिन महिलाएं सुबह से ही पूजा की तैयारी करती हैं और दोपहर तक पूजा सम्पन्न हो जाता है। इस व्रत को लेकर महिलाएं दो से तीन दिन पहले से ही तैयारियों में लग जातीं हैं। वही इस दिन उपवास रखीं महिलाओं के द्वारा जिससे जैसी हो ब्राह्मणों में व असहायों के मध्य दान दक्षिणा देने की भी परंपरा है। इसी क्रम में हरिहरपुर , बत्तो, चौबे मझिगावां, डगर सहित दर्जनों गांवों में वट – सावित्री व्रत सम्पन्न हुआ।