पांडू: बीडीओ आत्मदाह करने के लिए प्रेरित कर रहे हैं : रामउदय साहु

>शिकायत.मामला बिश्रामपुर में आवंटित जिलापरिषद द्वारा 10 नंबर दुकान का
> 11 अगस्त 2015 को आवंटित हुआ था दुकान
> डीडीसी के आदेश के बाद भी नही हो सका दुकान खाली
> जिले के तमाम अला अधिकारी के पास किया गया था शिकायत

पांडू : के ग्राम महुगांवा निवासी राम उदय साहु को बिश्रामपुर के इटको रोड भूतल का 10 नंबर दुकान जिला परिषद द्वारा आवंटित किया गया था,लेकिन आज तक वह इस दुकान पर कब्जा नहीं जमा सका,श्री साहु ने बताया कि लॉटरी के माध्यम से 25000 रुपये बंदोबस्ती का एकरारनामा कर 11 अगस्त 2015 को दुकान आवंटित किया गया था,लेकिन तत्काल आर्थिक स्थित ठीक नही रहने के कारण वह दुकान नहीं खोल पाया था,कुछ दिन बाद जब वह दुकान देखने बिश्रामपुर गया तो देखा कि उस 10 नंबर दुकान पर किसी ने अवैध रूप से कब्जा जमा लिया है,उन्होंने छानबीन किया तो पता चला की बिश्रामपुर का पूनम कुंवर द्वारा उक्त दुकान पर कब्जा किया गया है,दुकान खाली करने को कहा तो उक्त महिला झगड़ा करने एवं झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी दी,इस संबंध में राम उदय साहु ने जिले के तमाम अला अधिकारी को लिखित रूप से आवेदन देकर जानकारी दिया था,जिसे लेकर डीडीसी ने पत्रांक 360 दिनांक 11.04.2017 को पत्र निर्गत किया था जिसमें उन्होंने बिश्रामपुर बीडीओ को आदेश दिया था की पूनम कुंवर का 10 नंबर दुकान से अवैध कब्ज़ा को हटाते हुए राम उदय साहु को उक्त दुकान हस्तगत करने को कहा था,लेकिन आज तक दुकान दुकान से अवैध कब्ज़ा को नहीं हटाया गया,पुनः उन्होंने 19 मई को डीसी,डीडीसी,एसडीओ एवं बीडीओ को आवेदन दिया था जिसमें उन्होंने कहा था कि दस दिन के अंदर दुकान खाली नही कराया गया तो सपरिवार आत्मदाह करने की चेतावनी दी थी,जिसकी खबर 22 मई को प्रभात खबर में प्रकाशित भी किया गया था,इसके बाद डीडीसी के द्वारा पत्रांक 549 एवं दिनांक 2 जून 2017 को पत्र निर्गत किया गया था जिसमें बीडीओ को निर्देश दिया गया था कि यथाशीघ्र दुकान संख्या 10 को राम उदय साहु को हस्तगत कराते हुए कृत करवाई कर सूचित करने का भी निर्देश दिया था,इस संबंध में जब राम उदय साहु ने बिश्रामपुर बीडीओ बिनय कुमार से मिलने उनके कार्यालय में गया और दुकान खाली करवाने की बात को रखा तो उन्होंने कहा कि मैं दुकन को खाली नहीं करवा पाउँगा,डीसी और डीडीसी के पास जाओ,उन्होंने कहा कि ज्यादा बोलेगा तो ऑफिस से बाहर कर देंगे,बीडीओ ने काफी दुव्यव्हार किया,12 जून को रात्री 8:02 मिनट में राम उदय साहु ने मोबाइल से लगभग पांच मिनट तक बीडीओ से बात किया तो बीडीओ ने कहा की आप तो आत्मदाह करने वाले थे अभी तक जिंदा कैसे हैं,आपको तो आत्मदाह कर लेना चाहिए था,इन सारी बातोँ का आइडियो क्लिप मौजूद है,राम उदय साहु का कहना है की जब भी बिश्रामपुर बीडीओ बिनय कुमार से बात होती है तो आत्मदाह करने का प्रेरित किया जाता है,उन्होंने कहा दुकान कब्ज़ा को लेकर वह पत्नी का गहना तक भी बेच दिया,यह मामला एसडीओ का कोर्ट में भी चला था और फैसला राम उदय साहु के पक्ष में फाईनल हुआ है,राम उदय साहु ने कहा की बीडीओ द्वारा 50 हजार रूपये घुस माँगा जा रहा था लेकिन आर्थिक स्थिति ठीक नहीं रहने के कारण वह पत्नी का मंगलसूत्र बेचकर 7 हजार रुपये घुस के तौर पर बीडीओ को देने की बात कही है,श्री साहु ने कहा है कि बिश्रामपुर बीडीओ आत्मदाह करने के लिए प्रेरित कर रहे हैं तो उन्होंने फैसला किया है की दुकान नही मिला तो बिश्रामपुर बीडीओ के कार्यालय के समक्ष आत्मदाह करेंगे जिससे उनकी आत्मा को शन्ति मिल सके.

73 total views, 1 views today