डंडई । धान क्रय केंद्र चालू नहीं होने से किसान परेशान, आत्मदाह की दी चेतावनी

डंडई । गढ़वा । गढ़वा जिला अंतर्गत डंडई प्रखंड के शनिवार को किसानों ने बाजार टोला में जमा होकर मिडिया के माध्यम से सरकार से अविलंब डंडई में धान क्रय केंद्र खोलकर और धान खरीदने का मांग किया है. बताते चलें कि प्रखंड की 90 प्रतिशत आबादी कृषि पर निर्भर है। कृषि में धान की खेती ही इस क्षेत्र के किसानों की मुख्य पूंजी है। धान की खेती से ही इस क्षेत्र के किसान साल भर जीवन-यापन करते हैं, लेकिन सरकार की अव्यवस्था और प्रखंड व जिला के विभागीय लापरवाही के कारण प्रखंड क्षेत्र के किसानों के लिए धान क्रय केंद्र अभी तक नहीं खुला है।

प्रखंड मुख्यालय में अब तक सरकारी धान क्रय केंद्र नहीं खुलने से किसानों को भारी परेशानी हो रही है।किसान अशोक प्रसाद ने कहा कि आखिर विभाग कब धान क्रय केंद्र खोलगी? क्या विभाग ऐसे समय पर क्रय केंद्र खोलेगा जब अधिकांश किसानों का धान बाजार में बिक जाएगा, लोग लूट जाएंगे,बर्बाद हो जाएंगे?किसान एस कुमार,गुप्तेश्वर साह,रंजीत कुमार, नंदू यादव,राजेश मेहता, आदित्य लाल, अलख निरंजन प्रसाद, अक्षय लाल साह सहित कई किसानों ने बताया कि धान क्रय केंद्र खोलने को लेकर हम लोग काफी दिनों से कार्यालय का चक्कर लगा रहे है। वहीं इसी बीच जब उपायुक्त महोदय डंडई प्रखंड कार्यालय में आए हुए थे उस समय भी हम लोग उनसे धान क्रय केंद्र खोलने का मांग किए थे और उसके कुछ ही दिन बाद किसी तरह धान क्रय केंद्र कार्यालय खोलने का प्रक्रिया भी चालू हुआ, जिससे किसानों में हर्ष की लहर दौड़ गई थी।वही धान गोदाम का साफ सफाई होकर धान क्रय करने के लिये अधिकारी भी पहुंच गए थे लेकिन अचानक क्रय केंद्र शुरू नहीं किया गया और काम बंद कर दिया गया। जिससे हम लोग काफी परेशान हैं। किसानों पर न तो किसी नेता का ध्यान है ना ही किसी प्रशासन का,हम लोग दौड़ते दौड़ते थक चुके हैं। किसानों ने प्रखंड व जिला प्रशासन से यथाशीघ्र धान क्रय केंद्र खोले जाने की मांग की है। साथ ही उन्होंने कहा कि अगर हम लोग की मांग को नहीं सुना जाएगा तो अंत में बाध्य होकर आंदोलन भी करेंगे अगर उस पर भी नहीं सुनवाई हुआ तो हम लोग सभी धान में आग लगाते हुए आत्मदाह कर लेंगे।

170 total views, 1 views today