कांडी। गढ़वा। सासंद बीडी राम ने सोन नदी में बनने वाले पाइप लाइन-1 का किया निरीक्षण

फोटो : नक्शा के सहारे निरीक्षण करते हुए
फोटो : स्थल का निरीक्षण करते

 कांडी से अरुण कुमार चौबे

कांडी। गढ़वा। हरिहरपुर ओपी क्षेत्र में पलामू सांसद विष्णु दयाल राम ने बुधवार को केंद्र सरकार द्वारा प्रस्तावित पाइप लाइन फेज वन का निरीक्षण किया। उन्होंने सबसे पहले हरिहरपुर में कई किसानों व पार्टी के सदस्यों से मिलकर उनकी समस्याओं को सुना जिसमें कांडी प्रखंड के सात पंचायतों में घर घर नल जल योजना का सर्वे नही होने का शिकायत पत्र सूर्यदेव सिंह, अरुण सिंह, प्रवीण सिंह, राजा ऋषिकेश सिंह व नीरज सिंह ने सौपा। उसके पश्चात सांसद ने सोन नदी के किनारे दारीदह स्थान पर गए जंहा पाइप लाइन फेज वन में बनने वाले लिफ्टिंग का जायजा लिया व विभाग के अभियंता द्वारा नक्शा के माध्यम से पूरे स्थल का निरीक्षण किया और कार्य को जल्द से जल्द प्रारम्भ करवाने का आश्वासन दिया।

इस योजना के तहत जिले में पाइपलाइन के माध्यम से विभिन्न जलाशयों /जल निकायों में आवश्यकतानुसार पेयजल एंव सिचाई उपलब्ध कराए जाने के कार्य हेतु 1169.28 करोड़ रुपये की प्रसाशनिक स्वीकृति प्रदान की गई है। इस योजना के अंतर्गत जिले के सोन नदी व कनहर नदी के तीन अलग -अलग जल लाया जाएगा और कई गांवों के सिचाई व पेयजल हेतु सुविधा मिलेगी जिससे हर किसानों को लाभ मिलेगा।

जल लाने के लिए तीन भागों में बांटा गया है जिसमें पाइपलाइन फेज -1, पाइपलाइन फेज -2 व पाइपलाइन फेज -3
पाइपलाइन फेज -1 में सोन नदी से कांडी प्रखंड के दारीदह ग्राम में लिफ्टिंग, पाइपलाइन फेज- 2 में कनहर नदी से रंका प्रखण्ड के भुनरी ग्राम में लिफ्टिंग व पाइपलाइन फेज – 3 में कनहर नदी से भंडरिया प्रखण्ड के उरगा ग्राम में लिफ्टिंग।

पाइपलाइन फेज -1 से सरसतिया , कवलदाग , बभनीखांड , उत्तमाही, पंडरवा एव पाइपलाइन के मार्ग में पड़ने वाले अन्य छोटे – बड़े जल निकायों के जलाशयों को भरा जाएगा।

फेज वन से गढ़वा , नगरटारी , मझिआंव , भवनाथपुर , कांडी , केतार , खरौंधी , रमना , सगमा एंव विशुनपुरा प्रखण्ड के किसानों को लाभ मिलेगा।

क्या कहा सांसद बीडी राम ने : उपस्थित लोगों के बीच उन्होंने कहा कि तीनों फेजों को मिलाकर टोटल 70 मिलियन क्यूबिक पानी पहुंचाया जाएगा ताकि गढ़वा जिले के कोई भी किसान का खेत असिंचित या पेय जल समस्या ना झेल सके उन्होंने कहा कि हमारी केंद्र सरकार की यह योजना पर कार्य इसलिए कर रही है ताकि किसानों को सिंचाई के लिए स्त्रोत प्राप्त करना था। आगामी दो से तीन वर्षों में पलामू व गढ़वा के किसानों की स्थिति अच्छी होगी। हमारी कोशिश है कि 70% से 80% जल की व्यवस्था पाइपलाइन के माध्यम से हो ताकी 20% ही भगवान के भरोशे पर हों। वंही हरिहरपुर मंडल अध्यक्ष विनोद बिहारी द्विवेदी ने एक मांग पत्र सौंपा जिसमें क्षेत्र के कई समस्याओ जैसे दो दिनों के बाद धान क्रय केंद्र बंद होना, नीलगाय की समस्या से किसानों का जूझना, अंचल संबंधी पूर्ण रूप से कार्य कांडी अंचल कार्यालय में ना होना, कांडी स्वास्थ्य केंद्र में 24×7 घँटे चिकित्सक का रहने जैसी समस्याओ का उल्लेख किया गया है।

अलखनाथ पांडेय, शारदा महेश प्रताप देव, जिला उपाध्यक्ष उमेन्द्र यादव, दक्षिण पूर्व सलाहकार समिति के सदस्य रघुराज पांडेय, मुकेश, निरंजन सिंह, संजय सिंह, शशांक शेखर , संतोष सिंह, बबलू सिंह सहित कई गण्यमान्य लोग उपस्थित थे।