नावा बाजार। पलामू। कंडा मे सही उपचार के आभाव में निलगाय की मौत निंदनीय : शत्रु

नावा बाजार। पलामू । झारखण्ड क्रांति मंच के केन्द्रीय अध्यक्ष शत्रुघ्न कुमार शत्रु ने कहा कि पलामू में निकम्मा व भ्रष्ट वन प्रशासन को पेड़-पौधे कटवाने व पत्थर/पहाड़ बेचवाने से फूर्सत नहीं है । यही कारण है कि कण्डा में दूर्घटना की शिकार नीलगाय तड़पकर कर इलाज के इंतजार में दम तोड दिया। लेकिन डीएफओ समेत वन विभाग के संबंधित पदाधिकारियों कुम्भकर्णी के निद्रा मे सोते रहे। केन्द्रीय अध्यक्ष ने कहा है कि वन्य जीव संरक्षण अधिनियम पलामू में मजाक बनकर रह गया है । चाहे पलामू टाईगर रिजर्व क्षेत्र हो अथवा इससे अलग दूसरे क्षेत्र, चारों तरफ अंधेरगर्दी मची है । कथित तौर पर बिमार बाघिन के भी संदेहास्पद मे मौत हो अथवा नीलगाय की इलाज के अभाव में मौत हो । इसके लिए जवाबदेही तय कर, कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए । अन्यथा बाध्य हो कर झारखंड क्रांति मंच आन्दोलन तेज करेगी। अध्यक्ष ने कहा कि नावाबाजार के पत्रकारों द्वारा समय पर इस बात को 19 नंबर को रात्रि में ही उजागर करने के काम किया। इसके बावजुद भी जिला प्रशासन की गहन चूप्पी निंदनीय है । इस मामले को वन व पर्यावरण मंत्रालय को अवगत कराया जाएगा।

24 total views, 1 views today