Ketar News । Garhwa । छठ महापर्व भास्कर नगरी मुकुंदपुर में धूमधाम से मनाई गई

केतार से इम्तेयाज आलम की रिपोर्ट

केतार । गढ़वा । केतार प्रखंड अंतर्गत भास्कर नगरी पंचायत मुकुंदपुर में धूमधाम से छठ महापर्व मनाई गई। विदित हो कि यहां का छठ महापर्व 8 दशकों से मनाई जाती है और छठ महापर्व को मनाने के लिए लोग उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, बिहार, उड़ीसा, बंगाल, से लोग हजारों की संख्या में चार दिवसीय छठ महापर्व मनाने के लिए हर साल आते हैं। यहां के पंचायत वासियों के सहयोग से पूरे नारायण वन को दुल्हन की तरह सजाया जाता है। यहां छठ कर्ताओं का मानना है कि यहां जो भी मुरादे लेकर जो आते हैं। उन्हें खाली दामन छठी मां कभी नहीं लौटती हैं। वहीं व्रतधारियों को किसी प्रकार का कठिनाइयों का सामना ना करना पड़े इसके लिए सवास्थ्य सुरक्षा, लाइट, पंडाल, पीने का स्वच्छ पानी, स्नान के लिए स्वच्छ बोर का पानी, उपलब्ध कराया जाता है

> सुप्रसिद्ध नारायण वन की उत्पत्ति

भाष्कर नगरी स्थित सूर्यमंदिर नारायण वन मुकुंदपुर में पिछले आठ दशक से छठ महापर्व मनाया जा रहा है।मंदिर निर्माण कमिटी के संरक्षक रामप्रवेश वर्मा ने बताया कि श्री श्री कृष्णा नंद ब्रह्मचारी मुकुंदपुर के पड़ोसी गांव में यज्ञ कराने आए थे।तभी उनको सपना आया कि मुकुंदपुर के दक्षिण में भगवान सूर्य की प्रतिमा मिट्टी में भूत गढ़वा नामक जगह पर दबे हुए है।श्री ब्रह्मचारी ने गांव वालों को लेकर भूत गढवा नामक जगह पर आकर मिट्टी खोदवाए।तब भगवान सूर्य की प्रतिमा मिली तभी से इस भूत गढवा नामक स्थान को बदल कर नारायण वन से प्रसिद्ध हुआ।

23 total views, 2 views today