बड़गड़ | गढ़वा | बड़गड़ में चुनावी परिचर्चा का दौर जोरो पर

 डॉ.राहुल अग्रवाल
केएन त्रिपाठी

 

आलोक कु. चौरसिया

बड़गड़ | गढ़वा | लोकतंत्र के महापर्व आसन्न विधानसभा चुनाव 2019 के पहले चरण का समय जैसे-जैसे नजदीक आ रहा है. वैसे – वैसे राजनीतिक दलों के कार्यकर्ताओं में राजनीतिक सुमार चढ़ता जा रहा है. प्रखंड मुख्यालय बड़गड़ के चौक चौराहों एवं चाय पान की दुकानों पर रोज सुबह पह फटते हीं चुनावी चर्चा परिचर्चा का दौर सुरू हो जा रहा है. प्रखंड के विभिन्न राजनीतिक दलों से सरोकार रखने वाले उनके कार्यकर्ता अपने संभावित उम्मीदवारों की जीत को लेकर मुद्दे तलाश रहे हैं. लोगों में जोर – शोर से चर्चा हो रही है. कि इस बार के चुनाव में पहली बार मैदान में उतरे जेबीएम के प्रत्याशी डॉक्टर राहुल अग्रवाल एवं महागठबंधन के कांग्रेस प्रत्याशी के एन त्रिपाठी तथा भाजपा के संभावित प्रत्याशी पूर्व विधायक आलोक कुमार चौरसिया के बीच त्रिशंकू की तरह कांटे की टक्कर होगी. लोगों में चर्चा है कि इस बार के चुनाव में डालटनगंज भंडरिया विधानसभा क्षेत्र के चुनाव परिणाम में जीत हार के फैसले का फासला बहुत कम होगा. लोगों में चर्चा है कि इस बार के चुनाव मैदान से दिलीप सिंह नामधारी का हटना कहीं जेबीएम के प्रत्याशी डॉक्टर राहुल अग्रवाल को फायदा न पहुंचा दे. निवर्तमान विधायक के कार्यकर्ता अपने विधायक के कार्यकाल में किये गये कार्यों को जनता के बीच गिनाने में लगे हैं तो दूसरी ओर अन्य उम्मीदवारों के कार्यकर्ताओं में बड़गड़ के उगरा स्थित कनहर नदी पर पुल निर्माण कार्य, बड़गड़ से मुटकी तक छत्तीसगढ़ के चांदो को जोड़ने वाली सड़क, बड़गड़ कोे सीधे छत्तीसगढ़ के बलरामपुर जिला मुख्यालय से जोड़ने वाली महत्वपूर्ण बड़गड़ – उगरा सड़क निर्माण कार्य जैसे कार्यो को कराने में विफल रहने की चर्चाएं काफी जोरो पर है. जो भाजपा विरोधी दल के उम्मीदवारों के लिये बेहतर मुद्दा हो सकता है.

150 total views, 1 views today