कांडी । गढ़वा । मृतक के आश्रित को पारिवारिक लाभ के तहत दिया 10-10 हजार रुपए का चेक

कांडी से अरुण कुमार चौबे

कांडी । गढ़वा । हरिहरपुर ओपी क्षेत्र अंतर्गत डुमरसोता गांव के चार मजदूरों की मौत बीते बुधवार को एक निर्माणाधीन शौचालय की टंकी में लगे सेंट्रिंग खोलने के क्रम में हो गई थी। प्रखण्ड मुख्यालय स्थित अस्पताल में चिकित्सक नदारद थे। सैकड़ों ग्रामीणों ने यहां की स्वास्थ्य व्यवस्था पर आरोप लगाया था। आक्रोशित लोगों ने सड़क जाम करते हुए बीच सड़क पर टायर जलाकर विरोध प्रदर्शन भी किया था।

ग्रामीणों की मांग थी कि उक्त चारो मृत मजदूरों के आश्रितों को मुआवजा व उक्त अस्पताल में एक अच्छे चिकित्सक की पदस्थापना की जाए। वहीं प्रशाशनिक प्रक्रिया के तहत पोस्टमार्टम के बाद शव को घर लाया गया। गुरुवार को सोन नदी के तट पर अंतिम दाह-संस्कार कर दिया गया। शुक्रवार को मृत मजदूरों के परिजनों से मिलने कांडी प्रखण्ड विकास पदाधिकारी जोहन टुड्डू पहुंचे। उन्होंने शोक व्यक्त करते हुए दुःखित परिजनों को धैर्य बंधाया। साथ ही पारिवारिक लाभ के तहत प्रवीण मेहता, अनिल मेहता व मिथिलेश मेहता के परिवार को 10-10 हजार रुपए का चेक प्रदान किया गया। श्री टुड्डू ने कहा कि नागेंद्र मेहता के परिवार को भी अभी किसी कारण वश चेक नहीं दिया गया है पर उसे भी जल्द चेक 10 हजार का दिया जाएगा।शुक्रवार को कांडी बीडीओ के साथ मौके पर डुमरसोता पंचायत मुखिया प्रतिनिधि रमाकांत मेहता व दृष्टि यूथ ऑर्गेनाइजेशन के प्रधान सचिव शशांक शेखर सहित कई लोग उपस्थित थे।

39 total views, 2 views today