खरौंधी । गढ़वा । उपायुक्त गढ़वा द्वारा प्रखंड कार्यालय में बैठकर लोगों की जन समस्या को सुने

खरौंधी से योगेंद्र प्रजापति की रिपोर्ट

खरौंधी । गढवा । उपायुक्त राजेश कुमार पाठक ने खरौंधी प्रखंड का दौरा गुरुवार को किया। इस बीच उन्होंने खरौंधी प्रखंड के लोगों की समस्या को भी सुना। उन्होंने सबसे पहले कोरोना वायरस को देखते हुए झारखंड उत्तर प्रदेश सीमा का निरीक्षण किया। इस दौरान वहां पर मौजूद पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए। इसके बाद उन्होंने खरौंधी प्रखंड कार्यालय में पहुंचकर कृषि से संबंधित विभाग के पदाधिकारियों के साथ बैठक की, और खरौंधी प्रखंड में कम धन रोकने की समस्या को देखते हुए तत्काल संबंधित विभाग के पदाधिकारियों को धान रोपनी का आकलन कर जिला को रिपोर्ट भेजने की बात कही।

इसके अलावा काकी बैठक में कृषि से संबंधित मामलों मे कृषि विभाग के संबंधित पदाधिकारियों को खरीफ फसलों में हुए नुकसान के अलावा आने वाले रबी फसलों को ध्यान देने का निर्देश दिया गया है। उन्होंने कहा कि प्रखंड में टिकट चिकित्सक की व्यवस्था कराने की प्रयास किया जाएगा। इस बीच उप स्वास्थ्य केंद्र अरंगी में पदस्थापित डॉ. जफर हसन की जांच रिपोर्ट तैयार करने के लिए बीडीओ को सौंपा है। इसके अलावा शिकायत करने वालों में अरंगी मुखिया शिव कुमार यादव, कूपा मुखिया बैजू प्रसाद गुप्ता ने विगत कुछ वर्ष पहले प्रखंड में आए बाढ़ में प्रखंड के दर्जनों बांध टूट गए थे। उसका मरम्मती करना अति आवश्यक है। वही आवास बनवाने में बालू उपलब्ध कराने की मांग डीसी से किया गया।

जबकि उप प्रमुख गोरखनाथ चौधरी ने स्वास्थ्य से संबंधित मामला को उठाया। वहीं उप प्रमुख द्वारा डीसी से मांग किया गया कि खरौंधी सरकारी हॉस्पिटल खुलने से लोगों को दूर नहीं जाना पड़ेगा। बिल्डिंग बन के तैयार हैं। अभी तक कोई डॉक्टर नहीं बैठते हैं। इसके अलावा जेएसएलपीएस समूह की महिलाओं मैं सुनीता देवी किरण देवी ने शौचालय निर्माण में बालू ईट उपलब्ध कराने की मांग की है। इसके अलावा बागवानी का पेमेंट अभी तक नहीं हुआ है। उसका पेमेंट कराने की मांग की है

इधर देव प्रसाद झारखंड मुक्ति मोर्चा प्रखंड अध्यक्ष सोनू कुमार पासवान ने लिखित आवेदन देकर स्वास्थ्य व्यवस्था को अविलंब चालू कराने की मांग किया। रामसेवक आदि ने भी अपनी समस्या को लेकर उपायुक्त को आवेदन दिया। पशुपालन विभाग को तत्काल पशुओं से संबंधित केसीसी फॉर्म भरकर स्वरोजगार के लिए तत्काल केसीसी लोन लोगो को देने का निर्देश दिया है। इस मौके पर एसडीओ राज्यवर्धन कुमार, बीड़ियों महेंद्र छोटन उराँव, जिला पशुपालन पदाधिकारी डॉक्टर धनिक मंडल, टीबीओ भवनाथपुर डॉक्टर लीना कुमारी, उप निदेशक योगेंद्र नाथ सिंह आदि लोग मौजूद थे।

खरौंधी से योगेंद्र प्रजापति की रिपोर्ट

खरौंधी । गढवा । उपायुक्त राजेश कुमार पाठक ने खरौंधी प्रखंड का दौरा गुरुवार को किया। इस बीच उन्होंने खरौंधी प्रखंड के लोगों की समस्या को भी सुना। उन्होंने सबसे पहले कोरोना वायरस को देखते हुए झारखंड उत्तर प्रदेश सीमा का निरीक्षण किया। इस दौरान वहां पर मौजूद पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए। इसके बाद उन्होंने खरौंधी प्रखंड कार्यालय में पहुंचकर कृषि से संबंधित विभाग के पदाधिकारियों के साथ बैठक की, और खरौंधी प्रखंड में कम धन रोकने की समस्या को देखते हुए तत्काल संबंधित विभाग के पदाधिकारियों को धान रोपनी का आकलन कर जिला को रिपोर्ट भेजने की बात कही।

इसके अलावा काकी बैठक में कृषि से संबंधित मामलों मे कृषि विभाग के संबंधित पदाधिकारियों को खरीफ फसलों में हुए नुकसान के अलावा आने वाले रबी फसलों को ध्यान देने का निर्देश दिया गया है। उन्होंने कहा कि प्रखंड में टिकट चिकित्सक की व्यवस्था कराने की प्रयास किया जाएगा। इस बीच उप स्वास्थ्य केंद्र अरंगी में पदस्थापित डॉ. जफर हसन की जांच रिपोर्ट तैयार करने के लिए बीडीओ को सौंपा है। इसके अलावा शिकायत करने वालों में अरंगी मुखिया शिव कुमार यादव, कूपा मुखिया बैजू प्रसाद गुप्ता ने विगत कुछ वर्ष पहले प्रखंड में आए बाढ़ में प्रखंड के दर्जनों बांध टूट गए थे। उसका मरम्मती करना अति आवश्यक है। वही आवास बनवाने में बालू उपलब्ध कराने की मांग डीसी से किया गया।

जबकि उप प्रमुख गोरखनाथ चौधरी ने स्वास्थ्य से संबंधित मामला को उठाया। वहीं उप प्रमुख द्वारा डीसी से मांग किया गया कि खरौंधी सरकारी हॉस्पिटल खुलने से लोगों को दूर नहीं जाना पड़ेगा। बिल्डिंग बन के तैयार हैं। अभी तक कोई डॉक्टर नहीं बैठते हैं। इसके अलावा जेएसएलपीएस समूह की महिलाओं मैं सुनीता देवी किरण देवी ने शौचालय निर्माण में बालू ईट उपलब्ध कराने की मांग की है। इसके अलावा बागवानी का पेमेंट अभी तक नहीं हुआ है। उसका पेमेंट कराने की मांग की है

इधर देव प्रसाद झारखंड मुक्ति मोर्चा प्रखंड अध्यक्ष सोनू कुमार पासवान ने लिखित आवेदन देकर स्वास्थ्य व्यवस्था को अविलंब चालू कराने की मांग किया। रामसेवक आदि ने भी अपनी समस्या को लेकर उपायुक्त को आवेदन दिया। पशुपालन विभाग को तत्काल पशुओं से संबंधित केसीसी फॉर्म भरकर स्वरोजगार के लिए तत्काल केसीसी लोन लोगो को देने का निर्देश दिया है। इस मौके पर एसडीओ राज्यवर्धन कुमार, बीड़ियों महेंद्र छोटन उराँव, जिला पशुपालन पदाधिकारी डॉक्टर धनिक मंडल, टीबीओ भवनाथपुर डॉक्टर लीना कुमारी, उप निदेशक योगेंद्र नाथ सिंह आदि लोग मौजूद थे।

227 total views, 1 views today