खरौंधी(गढ़वा)प्रखण्ड के पारा शिक्षकों ने एक माह का मानदेय मिलने से नराजगी जताई


पारा शिक्षक सरकार के खिलाफ नाराजगी जताते हुए

खरौंधी (गढ़वा)-: प्रखंड के पारा शिक्षकों का एक माह का मानदेय आज उनके खाते में क्रेडिट हो गया हैै। राज्य परियोजना द्वारा होली पर्व को लेकर अक्टूबर माह का मानदेय दिया गया है। लेकिन पारा शिक्षकों ने परियोजना द्वारा एक माह का मानदेय भेजने पर पारा शिक्षकों ने नराजगी जताई है। पारा शिक्षक संघ के प्रखंड अध्यक्ष इंदल पासवान ने इसे परियोजना द्वारा पारा शिक्षको के साथ किया मजाक बताया है। उन्होने कहा कि पांच माह से मानदेय नहीं मिलने से पारा शिक्षकों के समक्ष भुखमरी की स्थिति उत्पन हो गई। मानदेय नहीं मिलने के कारण ईलाज के अभाव में कई पारा शिक्षक असमय काल के गाल में समा गए। लेकिन परियोजना एवं विभाग पर इससे कोई फर्क पड़ता प्रतीत नहीं हो रहा है। पारा शिक्षकों को विगत तीन-चार वर्ष से समय पर मानदेय नहीं मिल रहा है। अबतक के कार्यकाल में राज्य सरकार ने पारा शिक्षकों उनके कमाए हुए मानदेय के लिए एकदम तरसा एवं रूला दिया है। कमाए हुए पैसे नहीं मिलने पारा शिक्षक काफी आहत एवं आक्रोषित में हैं। आक्रोश व्यक्त करने वालों में पारा शिक्षक सुरेंद्र मेहता, संतोष मेहता, प्रदीप मेहता, विभूति नारायण सिंह,अरविंद गुप्ता, इन्द्रमन यादव, मुनेश्वर राम, नारद राम, मुकेश सिंह, सुघांशु पाठक, फूल कुमारी बाखला आदि सहित अन्य के नाम शामिल हैं।

58 total views, 1 views today