खरौंधी(गढ़वा)प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में कुष्ट रोगियों की जांच किया गया अमरोरा की 18 वर्षीय रिंकी कुमारी कुष्ट बीमारी से ग्रसित


कुष्ट रोगियों की जांचएवं इलाज करते चिकित्सक

खरौंधी (गढ़वा)-: प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में कुष्ठ उन्मूलन कार्यक्रम के तहत विशेषज्ञ चिकित्सक सह जिला कुष्ठ परामर्शी डॉ भारतभुषण और पीएमडब्लू राजेश कुमार ने सहिया द्वारा चिन्हित करके लाये गए 18 मरीजों की जांच की गयी। जिसमें दो मरीज कुष्ठ के बीमारी से ग्रसित पाए गए। जिन्हें चिन्हित किया गया उनमें खरौंधी प्रखंड के अमरोरा गांव की रिंकी कुमारी उम्र 18 वर्ष तथा केतार प्रखंड के पाचाडुमर निवासी विकास सिंह के नाम शामिल हैं। मौके पर जिला कुष्ठ परामर्शी पदाधिकारी ने बताया कि यह कार्यक्रम पूरे जिला में चलाया जा रहा है। जिसमें सहिया को मरीज की पहचान करने का प्रशिक्षण दिया गया है। उनके द्वारा चिन्हित कर लाए गए मरीजों की जांच की गई। उन्होने कहा कि कुष्ठ एक संक्रामक बीमारी है। ऐसे रोगी से अन्य लोगों को भी बीमारी हो सकती है। इसलिये यह कार्यक्रम चलाया जा रहा है। ताकि एक भी रोगी कुष्ट से ग्रसित नहीं मिलें। उन्होंने लोगों से अपील किया कि अगर उनके इर्द-गिर्द किसी भी व्यक्ति के शरीर पर सफेद दाग हो और उसपर किसी प्रकार चुभन महसूश नहीं करता हो, तो ऐसे में उसे नजदीक के अस्पताल में लेकर आवें। जहां पर उन्हें निःशुल्क ईलाज एवं दवा दी जाएगी। मौके पर एलटी कुलदीप शर्मा, सहिया मीरा दुबे, वीरेंद्र मिश्रा,धर्मजीत राम आदि उपस्थित थे।

19 total views, 1 views today