केतार(गढ़वा) : केतार प्रखंड आज भी बदहाल नजर आ रहा है

केता(गढ़वा) : केतार प्रखंड के अस्तित्व में आये हुए 11 साल हो गया पर आज भी बदहाल नजर आ रहा है।वहाँ के समाजसेवी एवं आदिवासी समाज के अगुआ मानदेव सिंह खरवार ने बताया की हमलोगों के प्रखंड में किसी भी प्रकार का सुविधा नहीं है। भवनाथपुर प्रखंड से अलग होने के बाद हमलोग सोचे कि अब ब्लॉक के लिए भवनाथपुर नही जाना पड़ेगा। लेकिन ढाक के तिन पात साबित हुआ क्योंकि स्वास्थ्य विभाग, सड़क, बिजली, पानी ,शिक्षा सब कुछ बदहाल नजर आ रहा है।आज भी स्वास्थ्य के लिए मजबूर होकर भवनाथपुर जाना पड़ता है क्योंकि की स्वास्थ्य केन्द्र बना हुआ है लेकिन सिर्फ शोभा के लिए क्योंकि स्वास्थ्य विभाग मे एक भी ऐसा डॉक्टर नही है जिससे लोग बिमारी होने के बाद इलाज करा सकते है।वही हाल शिक्षा विभाग का भी है यहाँ एक भी ऐसा स्कुल नही है जिससे नैनिहालो को शिक्षा दिया जा सके है भी तो सिर्फ नाम का।मैट्रिक पास होने के बाद बच्चों को भवनाथपुर जाना पड़ता है। जिससे बच्चों को बहुत ही दिक्कत का सामना करना पड़ता है। जहाँ तक बिजली की बात है तो चौबीस घंटा मे सिर्फ दो घंटा ही बिजली मिल पाता है।सड़क का भी वही हाल है क्योंकि सड़क बना है तो सिर्फ नाम का क्योंकि सड़क के नाम पर सिर्फ कालिकरन किया गया है। और जहां तक पानी का सवाल है तो पानी की स्थिति कुछ ठीक ठाक है क्योंकि पंडा नदी एवं सोन नदी के किनारे ही केतार प्रखंड है। हमलोग सरकार से माँग करते हैं कि सड़क, बिजली, पानी, शिक्षा एवं स्वास्थ्य की समुचित व्यवस्था कराई जाए जिससे हमलोगों को राहत मिल सके। माँग करने वालो में उमेश सिंह, शिव कुमार सिंह खरवार सहित अन्य लोग शामिल थे।

44 total views, 1 views today