खरौंधी(गढ़वा) : खरौंधी प्रखण्ड के विभिन्न विद्यालयों में स्वामी विवेकानंद जी की 156 वीं जयन्ती मनायी गयी

स्वामी विवेकानंद जी की जयंती मनाते शिक्षक और छात्र

खरौंधी(गढ़वा) : प्रखण्ड के विभिन विद्यालयो में शनिवार को युगपुरुष,वेदांत दर्शन के पुरोधा,मातृभूमि के उपासक,विरले कर्मयोगी, दरिद्रनारायण मानव सेवक, तूफानी हिन्दू साधु,करोड़ों युवाओं के प्रेरणास्रोत व प्रेरणापुंज स्वामी विवेकानंद की 156 वी जयंती को राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाया गया।जमा दो उच्च विद्यालय राजी में प्राचार्य जितेंद्र पाल,सरस्वती मध्य विद्यालय मझिगावां में में कामेश्वर सिंह एवं मध्य विद्यालय खरौंधी में राजनंदन राम ने स्वामी विवेकानंद जी के चित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित एवं पुष्प अर्पित कर कार्यक्रम की शुरुआत की।
मौके पर वक्ताओ ने कहा स्वामी विवेकानंद युवाओं को राष्ट्र निर्माण व सकारात्मक बदलाव का सबसे प्रमुख सारथी मानते थे.उनकी आध्यात्मिक चेतना व उनके विचार आज के युवाओं के लिए और भी प्रासंगिक हैं. यही वजह है कि उनके जन्मदिवस को राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप मनाया जाता है। मध्य विद्यालय मझिगावां के शिक्षक राजीव कुमार पाठक ने कहा की भारत एवं भारतीयता को समझने के लिये विवेकानंद को समझना होगा,यूरोपीय राष्ट द्वारा हिन्दू धर्म को हीन भावना से देखने के वावजूद विवेकानंद ने विदेशो में अपनी अमिट छाप छोड़ते हुए अलग पहचान बनाई।

38 total views, 1 views today