केतार(गढ़वा) : झारखंड सरकार के अड़ियल रवैया से पारा शिक्षक भुखमरी के कगार पर

केतार(गढ़वा) : झारखंड सरकार के अड़ियल रैवाया से पारा शिक्षक भुखमरी  के कगार पर पहुँच चूके है। एक तरफ़ पारा शिक्षको के द्वारा देश के कर्णधार होने वाले नौनिहालो को  शिक्षा  देने का कार्य किया जाता है। रघुवर सरकार पारा शिक्षको पर लाठी चार्ज  करवाया जा रहा और गुंडा बोला जा रहा है और जेल भेजा जा रहा है। यह कहा  का न्याय  है।सरकार को चाहिए की पारा शिक्षक  से मिलकर इसका समाधान करना चाहिये। एक तरफ़ सरकार का नारा है की एक बेटियाँ पढ़ गयी और सात पीढ़ी तर गयीं।तो इनको शिक्षा  देने वाले वही गुरू है जिनको जेल भेजा जा रहा है इसलिए शिक्षक को  मजबुर हो कर आत्महत्या जैसा क़दम उठाना पढ़ रहा है।यही झारखण्ड सरकार का नीयत और नित्ति है। पारा शिक्षक  का कहना है कि अगर रघुवर सरकार समये रहते नहीं समझी  तो सरकार को महँगा पढ़ सकता है.

28 total views, 1 views today