विश्रामपुर (पलामू) :- विश्रामपुर नगर परिषद के उपाध्यक्ष पर रिश्वत मांगने व धमकाने का आरोप

> उपाध्यक्ष ने आरोपो को नकारा,कहा संवेदक ने गलत किया है होगी कार्रवाई
विश्रामपुर (पलामू) :- विश्रामपुर नगर परिषद के उपाध्यक्ष अनिल कुमार पांडेय पर रिश्वत मांगने व धमकाने का आरोप लगा है.उपाध्यक्ष पर यह आरोप नगर परिषद के एक संवेदक गोपाल राम ने लगया है.इस संबंध में गोपाल राम ने पलामू उपायुक्त व अनुमंडलाधिकारी को एक पत्र भी लिखा है.उपायुक्त को लिखे पत्र में गोपाल राम ने कहा है कि नप कार्यालय द्वारा उन्हें सामुदायिक शौचालय का निर्माण कार्य सौंपा गया था.जिसे गुणवत्ता पूर्ण तरीके से पूरा भी कर लिया गया है.उपाध्यक्ष इसी कार्य मे मुझसे दो लाख रुपये बतौर रिश्वत मांग रहे थे.नही देने पर भुगतने की धमकी भी उन्होंने दिया है.जबकि उपाध्यक्ष अनिल कुमार पांडेय ने गोपाल राम के आरोपो को सिरे से खारिज कर दिया.श्री पांडेय ने कहा कि गोपाल राम की कौशल्या कंट्रक्शन नामक कंपनी को भवन निर्माण विभाग ने डिवार लगाते हुये अयोग्य घोषित कर दिया है.डिवार किये गये कौशल्या कंट्रक्शन कंपनी के प्रोपराइटर गोपाल राम ही है.इन्होंने नगर परिषद कार्यालय से यह जानकारी छुपायी. इतना ही नही इन्होंने अपने नाम से रजिस्ट्रेशन करा कर गलत तरीके से ठेका भी हासिल किया.जब उनका पोल हम सबो ने खोल दिया और कार्रवाई के लिये विभाग को लिखा तो गोपाल राम झुठा आरोप लगाकर मुझे ब्लैकमेल करने का प्रयास कर रहे है.इतना ही नही वे मुझे झूठा केस में फसाने की धमकी भी दे रहे है.लेकिन मैं किसी धमकी से डरने वाला नही हूं.मामले की निष्पक्ष जांच भी होगी और जांचोपरांत कार्रवाई भी होगी.

15 total views, 1 views today