डंडई(गढ़वा): योग ऋषि रामदेव जी के तेजस्वी शिष्य आचार्य विवेकानंद ने बच्चों को दिया योग का मूल मंत्र

योग सिखाते आचार्य विवेकानंद

विडियो:-योग शिक्षक शशि भूषण मेहता

डंडई(गढ़वा): प्रखंड मुख्यालय स्थित कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय में गत 5 दिनों से चल रहे योग शिविर का आज समापन हुआ, योग शिविर स्वामी रामदेव जी महाराज के ओजस्वी , तेजस्वी एवं योग सम्राट की उपाधि प्राप्त आचार्य विवेकानंद के सानिध्य में संचालित किया जा रहा था। शिविर का संचालन करते हुए आचार्य जी ने बताया कि विद्यार्थियों को आज के वर्तमान परिवेश में अध्ययन के साथ-साथ योग भी अत्यंत आवश्यक है। योग से जहां वे अपने जीवन में स्वस्थ तन , मन और स्वस्थ चिंतन पाएंगे वहीं अपने जीवन में समस्त समस्याओं को यथावत समाधान करने का सामर्थ्य भी अर्जित करेंगे । योग ,विद्यार्थियों की दिनचर्या में होना आवश्यक है। इससे वे पूर्ण एकाग्रता पूर्वक विकल्प रहित संकल्प के साथ साथ पूर्ण पुरुषार्थ करते हुए निरंतरता पूर्वक आगे बढ़ेंगे और अपने संकल्प और लक्ष्य को शीघ्र – अतिशीघ्र प्राप्त कर पाएंगे।
योग शिविर का समापन करते हुए आचार्य जी ने विद्यार्थियों और उपस्थित शिक्षकों तथा ग्रामीणों को बताया की

> दह्यांते ध्यायमनानां धातुनां ही यथा मला।
तथेंद्रियानां दह्यंते दोषां प्राणष्य निग्रहात्।।

अर्थात् –
अग्नि में जब लोहा आदि धातु को तपाया जाता है । तो उनके समस्त विकार नष्ट होकर वह शुद्ध हो जाता है। ठीक उसी प्रकार जब हम नियमित योग की अग्नि में अपनी शरीर , मन व आत्मा को तपाते हैं ,तो उससे हमारे शरीर , मन व आत्मा के मल, विकार तप्त होकर पूर्णता विशुद्ध हो जाता है। अतः अपने दैनिक जीवन में प्रत्येक व्यक्ति वैदिक ऋषि परंपरा से चली आ रही योग विद्या को अपनाएं और अपने जीवन में पूर्णता प्राप्त करें। अंत में वार्डेन- तनुजा कुमारी , शिक्षिका-*चंदा कुमारी , अकाउंटेंट – रोशनी कुमारी, शिक्षक- मनोज कुमार ठाकुर, ओम प्रकाश गुप्ता ,सतीश कुमार यादव , नंद कुमार , कुमारी पूनम, प्रिया कुमारी सेन ने संयुक्त रूप से आचार्य श्री को उपहार देकर सम्मानित किया । उपहार पाकर आचार्य ने अपार हर्ष व्यक्त किया और सभी को कोटि-कोटि धन्यवाद दिया। इस अवसर पर योग शिक्षक- शशि भूषण मेहता छात्राएं ,अमृता कुमारी ,नेहा कुमारी ,सिंधु कुमारी, फूल कुमारी, वीणा कुमारी ,प्रीति कुमारी, प्रियंका कुमारी, रेणु कुमारी , रीना कुमारी अर्चना कुमारी, सहित सभी छात्राएं उपस्थित थीं।

167 total views, 1 views today