रंका(गढवा) : तीर्थयाटन के नाम पर रंका के ग्रामीणो को बनाया गया बेवकूफ


रंका(गढवा) : तीर्थयाटन के नाम पर रंका के ग्रामीणो को बनाया गया बेवकूफ: रंका मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना का लाभ रंका प्रखंड के लोगों को नहीं मिला पिछले साल दिसंबर माह में रंका प्रखंड के विभिन्न पंचायतों के 110 लोगों का फार्म भरकर जिला कार्यालय भेजा गया था तभी से  सभी तीर्थयात्री अपनी अपनी तैयारी में लगे थे मगर 6 माह बीतने के बाद भी फार्म का अता-पता नहीं होने से लोगों को निराशा हाथ लगी इस बाबत पूछे जाने पर बीस सूत्री अध्यक्ष कमलेश नंदन सिन्हा ने बताया कि जिला प्रशासन के निर्देश पर मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के लिए रंका प्रखंड के सभी 14हो पंचायत से 110 लोगों का फार्म भरकर प्रखंड कार्यालय में जमा किया गया था वहां से जिला कार्यालय गया या नहीं पता नहीं चल पा रहा है इस मामले में प्रखंड विकास पदाधिकारी राजेश एक्का अनभिज्ञता  जता रहे हैं यही हालत कुछ प्रखंड कर्मियों का भी है जिला कार्यालय में पूछे जाने पर पता चला कि यहां फार्म आया ही नहीं है ऐसे में स्वयं समझा जा सकता है कि सरकारी कार्य को लेकर प्रखंड कर्मी कितना जवाब दे हैं इस मामले में सोनदाग पंचायत के गांव निवासी 70 वर्षीय पहलवान सिंह  , ग्राम गौरगाड़ा पंचायत  गांव के रामपति विश्वकर्मा ,दुखन प्रसाद सोनी ,रामदेव यादव, प्रेम शाह, रामचरित्र राम, आदि ने बताया कि पिछले नवंबर दिसंबर माह में रिटर्न फार्म के लिए फार्म भरकर मांगी गई थी प्रति व्यक्ति 100 से ₹250 खर्च कर फार्म भरकर प्रखंड कार्यालय में जमा किया गया था मगर आज तक इस फार्म का क्या हुआ कुछ पता नहीं चल सका है जबकि जिला के सभी प्रखंडों से कई लोगों तीर्थ कर वापस घर लौट गए हम सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी राजेश कार्यालय का चक्कर लगाकर थक चुके हैं मगर आज तक कोई भी सही जानकारी नहीं दे रहा है तिरथाटर्न योजना का फार्म भरकर बेवकूफ बना दिया गया.

217 total views, 1 views today