गढ़वा : डिलेवरी के 20 घंटे के बाद महिला की मौत, परिजनों ने चिकित्सक पर लापरवाही का लगाया आरोप

मृतक चंपा देवी

गढ़वा : सदर अस्पताल में डिलेवरी के लिए आई महिला की डिलिवरी के 20 घंटे के अंदर मौत हो गयी। महिला कांडी थाना क्षेत्र के सेमोरा निवासी नवलेश पासवान की 30 वर्षीय पत्नी चंपा देवी थी। मृतिका के पति नवलेश ने बताया कि चंपा को बुधवार को मझिआंव रेफ़रल अस्पताल में भर्ती कराया था। वहाँ से चिकित्सको ने सदर अस्पताल रेफर कर दिया। गढ़व सदर अस्पताल में 10:30 बजे भर्ती करवाया गया। चिकित्सक के सलाह पर, ऑपरेशन के माध्यम से डिलेवरी हुआ।डिलेवरी के बाद मां और बच्चा बिल्कुल स्वस्थ थे। नवलेश ने बताया कि डॉक्टर के द्वारा चंपा को इंजेक्शन लगाया गया। इंजेक्शन के बाद उसकी स्थिति खराब होने लगी। कुछ ही देर में चंपा की मौत हो गयी। इस संबंध में पूछे जाने पर डॉ अशोक कुमार ने बताया कि मरीज के परिजनों द्वारा लगाया गया आरोप निराधार है। महिला हार्ट की मरीज थी ।जिसका इलाज पहले से ही चल रहा था। इसकी जानकारी परिजनों द्वारा नहीं दिया गया था। जहां तक इंजेक्शन की बात है। वह एंटीबायोटिक का इंजेक्शन लगाया गया था।

303 total views, 1 views today