विश्रामपुर(पलामू) : आंखों की ज्योति लौटना एक सुखद ऐहसास है – स्वास्थ्य मंत्री

शिविर का उद्घाटन करते स्वास्थ्य मंत्री
जांच करती डॉ भारती कश्यप


> सोहरी चंद्रवंशी हॉस्पिटल में 125 नेत्र रोगियों का हुआ लैंश प्रत्यारोपण
विश्रामपुर(पलामू) : विश्रामपुर के सोहरी चंद्रवंशी हॉस्पिटल के मेघा आई कैम्प में 125 नेत्र रोगियों का मोतियाबिंद का ऑपरेशन कर सफलता पूर्वक लेंश प्रत्यारोपण किया गया. इसके अलावा रोगियों को समुचित चिकित्सीये सुविधा भी मुहैया कराई गयी. इस मेघा आई कैप्म का आयोजन रांची के कश्यप मेमोरियल आई हॉस्पिटल व सोहरी चंद्रवंशी हॉस्पिटल ने संयुक्त रूप से किया था. इससे पहले शिविर का उद्घाटन सूबे के स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी, ग्रासिम इंट्रस्टीज के इकाई प्रमुख वी वी भिड़े,प्रसिद्ध नेत्र चिकित्सक भारती कश्यप व डॉ एन सी अग्रवाल ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया. उद्घाटन समारोह की अध्यक्षता आरसीआईटी के निदेशक डॉ ईश्वर सागर चंद्रवंशी व संचालन विधायक प्रतिनिधि ललन चौबे ने किया. मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी ने कहा कि आखों की ज्योति लौटना अपने आप मे एक सुखद ऐहसास है.इसीलिये प्रत्येक वर्ष विश्रामपुर में मेघा आई कैम्प लगवाया जाता है.उन्होंने कहा कि विश्रामपुर में मेडिकल कॉलेज खोलना मेरी प्राथमिकता में शामिल है.जल्द ही आयुर्वेद व होमियोपैथ के कॉलेज का शुभारंभ किया जयेगा.मेदिनीनगर के मेडिकल कॉलेज में नये सत्र का नामांकन शुरू कराया जायेगा. इसकी सारी तैयारी भी पूरी कर ली गयी है.वी वी भिड़े ने कहा कि गरीब असहायों को नेत्र दान करना समाज सेवा का उत्कृष्ट उदाहरण है.जिसे हमेशा रामचंद्र चंद्रवंशी वेलफेयर ट्रस्ट करता रहा है.उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी की प्रशंसा करते हुये कहा कि इन्होंने अपने कार्यकाल में स्वास्थ्य सुविधाओं में काफी बढ़ोतरी की है.यहां उल्लेखनीय है कि 500 मरीजों का नेत्र जांच किया गया था.जिसमे से 125 मरीजों में मोतियाबिंद का लक्षण पाया गया था.इन्ही 125 चिन्हित मरीजों का आज मोतियाबिंद ऑपरेशन के बाद सफल लेंश प्रत्यारोपण किया गया. मौके पर भाजपा प्रदेश मंत्री भोला चंद्रवंशी,स्वास्थ्य मंत्री के जिला प्रतिनिधि रामचंद्र यादव,मंत्री के नगर प्रतिनिधि इदरीस हवारी,पलामू सीएस कलानंद मिश्रा, बिनय चौबे, ब्रजेश उपाध्याय, भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के अध्यक्ष गुलाम नवी अंसारी, टिकैत चौबे, प्रमुख संतोष चौबे, नंददेव यादव सहित कई लोग मौजूद थे.

> लेंश प्रत्यारोपण के लिये फेको मशीन सुरक्षित – डॉ भारती कश्यप
प्रसिद्ध नेत्र चिकित्सक डॉ भारती कश्यप ने कहा कि मोतियाबिंद के ऑपरेशन व सफल लेंश प्रत्यारोपण के लिये सेंचुरियन फेको मशीन सबसे सुरक्षित है. इस मेघा कैम्प में सभी नेत्र रोगियों का लेंश प्रत्यारोपण अत्याधुनिक फेको मशीन के द्वारा ही किया गया है.लेंश प्रत्यारोपित किये गये मरीजों के देखरेख हेतु अगले दो दिनों तक कश्यप मेमोरियल आई हॉस्पिटल की टीम विश्रामपुर में रहेगी. डॉ भारती ने कहा कि कश्यप परिवार पिछले 40 वर्षों से निःशुल्क मोतियाबिंद का ऑपरेशन कैम्प लगा कर करता रहा है.ज्यादातर आई कैम्प गरीब व रिमोट एरिया में किया जाता है. लेंश प्रत्यारोपण में डॉ भारती कश्यप का सहयोग डॉ बी पी कश्यप, डॉ निधि गडकरे, डॉ प्रतिश प्रणय, डॉ सुनील कुमार व डॉ मनोज कुमार ने किया.

106 total views, 1 views today